सरदार की मूर्ति दिखाकर मोदी ने देश से वसूल किया टैक्स, गैस सिलेंडर का दाम 2.94 रुपये बढ़ाया

पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी करने के बाद अब सरकार ने जनता की जेब ढीली करने का दूसरा तरीका ढूंढ निकाला है।
सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत बुधवार को 2.94 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ गई। सिलेंडर के आधार मूल्य में बदलाव और उस पर टैक्स बढ़ने से दाम में वृद्धि हुई है।

सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर के दाम में जून से यह छठी वृद्धि है। तब से लेकर अब तक दाम 14.13 रुपये बढ़ गए हैं। एलपीजी उपभोक्ताओं को बाजार मूल्य पर रसोई गैस सिलेंडर खरीदना होता है।

हालांकि, सरकार साल भर में 14.2 किलो वाले 12 सिलेंडरों पर सीधे ग्राहकों के बैंक खाते में सब्सिडी डालती हैं।

जिन्होंने गैस सब्सिडी छोड़ी थी अब वापस मांग रहे हैं, क्या अच्छे दिन आकर वापस चले गए ?

इंडियन ऑइल कॉर्प (आईओसी) ने बयान में कहा कि 14.2 किलो के सब्सिडीयुक्त एलपीजी सिलेंडर का दाम बुधवार मध्य रात्रि से 502.40 रुपये से बढ़कर 505.34 रुपये प्रति सिलेंडर हो जाएंगे।

बिना सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमतें 60 रुपये बढ़कर 880 रुपये प्रति सिलेंडर हो गई।

इसके साथ ही ग्राहकों के खातों में हस्तांतरित होने वाली सब्सिडी नवंबर 2018 में बढ़कर 433.66 रुपये प्रति सिलेंडर हो गई, जो कि अक्टूबर महीने में 376.60 रुपये प्रति सिलेंडर पर थी।