बीच फेरों में दुल्हे ने की शर्म की सारी हदें पार, दुल्हन से कपड़े उतारने की कर डाली अनोखी डिमांड

शादी हमारे भारत देश की सबसे उत्तम परंपरा है. सदियों से हमारे बड़े बजुर्ग शादी से जुडी रस्मों को निभाते चले आ रहे हैं. ऐसा माना जाता है कि शादी ना केवल दो लोगो का आपसी मेल है, बल्कि, यह दो परिवारों को हमेशा के लिए प्यार के बंधन में बाँध कर रखने वाली एक डोर है. लेकिन, इस शादी को कुछ लालची लोगों ने बिजनेस बना रखा है और यहाँ भी वह पैसों के लालच में बेटियों को खरीदते हैं. इस लालच को भी लोगों ने रस्म का नाम दे रखा है जिसको हम दहेज़ प्रथा के नाम से जानते हैं. हालांकि दहेज़ लेना और देना दोनों ही गलत है और कानून भी इसके सख्त खिलाफ है.

लेकिन, इन सब के बावजूद भी आज भी भारत में कहीं ना कही इस रस्म को गुपचुप तरीके से निभाया चला रहा है. आए दिन दहेज़ मामले को लेकर किसी न किसी बहु को जिन्दा जला दिया जाता है या फिर बुरे तरीके से प्रताड़ित किया जाता है. कुछ ऐसा ही मामले हाल ही में हमारे सामने देखने को मिला है. जहाँ एक लड़की को बीच मंडप में दहेज़ की भारी कीमत चुकानी पड़ी. दरअसल, शादी की खुशियों में अचानक दुल्हे ने दुल्हन से ऐसी डिमांड कर दी, जिसको सुन कर वहां मौजूद सभी लोगों के पैरों तले से ज़मीन खिसक गई.

अक्सर आपने दहेज़ प्रथा के मामलों में देखा होगा कि शादी में अचानक लड़का पक्ष दुल्हन के घरवालों से महंगी कार या बंगले या कैश की डिमांड कर देते हैं. लेकिन, इस अजीबो गरीब दुल्हे की मांग भी इतनी अजीब थी कि पूरी बरात के सामने उसे शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा. आज तक आपने ऐसी डिमांड ना पहले कभी पड़ी होगी और ना ही सुनी होगी. दरअसल, फेरों के दरमियाँ दुल्हे ने दुल्हन को अचानक कपडे उतारने का हुक्म दे दिया. जिसको सुन कर लड़की वालों के होश उड़ गए.

आपको यह पढ़ कर थोडा अजीब लग रहा होगा लेकिन यह बिलकुल सच्ची घटना है. अब आप सोच रहे होंगे कि भला कोई लड़का ऐसी घटिया डिमांड कैसे कर सकता है? तो दोस्तों, आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि यह सब महज एक अफवाह के चलते हुए. यह पूरा मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले का है. जहाँ शादी के मंडप में दुल्हे पक्ष को किसी ने बताया कि लड़की को चरम रोग है. जिसके चलते उन्होंने लड़की का सच जानने के लिए उसे कपडे उतारने को कह दिया.

शरीर पर सफेद दागो०न के पुष्टिकरन के लिए दुल्हन बनी लड़की को मज़बूरी में अपने कपडे उतार कर खुद को साबित करना पड़ा. दरअसल, लड़के वालों को किसी ने बताया कि उनकी होने वाली बहु के शरीर पर सफेद दाग हैं जिसके कारण उन्होंने मंडप पर बैठना सवीकार नहीं किया और शादी के लिए मना कर दिया. इस बात को लेकर दोनों पक्षों में काफी बहस हुई और जब मामला ज्यादा उलझ गया तो पुलिस को बुलवाना पड़ गया. जब पुलिस कोई फैसला ना करवा स्की तो  पंचायत ने दुल्हन को  कपडे उतार कर खुद को सही साबित करने का मौका दिया. जिसके बाद लड़की को सब रिश्तेदारों के सामने कपडे उतारने पड़े.